गंगा की खोज : Discovery of Ganga River

Ganga river ganga river map ganga river in bihar ganga river length ganga river in patna ganga river system map ganga river in jharkhand गंगा रिवर ganga river map in bihar ganga river and its tributaries ganga river action plan ganga river another name ganga river area ganga river about ganga river aarti ganga river animals ganga river at haridwar ganga river basin ganga river bridge ganga river bacteria ganga river basin map ganga river bank ganga river bridge in bihar ganga river birth place गंगा रिवर बेसिन ganga river cruise patna ganga river cleaning ganga river city ganga river course ganga river crocodile ganga river case study ganga river caption ganga river cruise ganges river dolphin ganga river distance ganga river dam ganga river depth ganga river drawing ganga river delta ganga river dam name गंगेस रिवर डॉलफिन ganga river essay ganga river essay in hindi ganga river essay in sanskrit ganga river end ganga river endpoint ganga river ending point ganga river easy drawing गंगा रिवर एस्से ganga riverfront ganga river flows through which states ganga river flow ganga river flows through ganga river fish ganga river flowing states ganga river flows through how many states ganga river full map ganga river ganga ganga river gk ganga river glacier ganga river gif ganga river goddess ganga river ghat ganga river gomukh ganga river gk question ganga river history in hindi ganga river haridwar ganga river height ganga river history ganga river hd images ganga river how many state ganga river how many km गंगा रिवर हिस्ट्री इन हिंदी ganga river in bihar map ganga river in india map ganga river in hindi ganga river images ganga river in bangladesh ganga river journey ganga river joining sea ganga river jharkhand ganga river joins the yamuna river near ganga river jwar bhata ganga river joar time ganga river jpg ganga river jankari ganga river kaha se nikalti hai ganga river km ganga river ki lambai ganga river kolkata ganga river known in bangladesh ganga river kaha hai ganga river kanpur गंगा रिवर कहा से निकलती है ganga river located ganga river last point ganga river located in which state ganga river long ganga river longest ganga river length in bihar गंगा रिवर लेंथ

गंगा की खोज (Discovery of Ganga River)

तो इक्ष्वाकु वंश के न हरिश्चंद्र, न ययाति, न रोहिताश, न चंप, न वसुदेव, न विजय, न सगर, न अमंजस, न अंशुमान और नाहिं दिलीप जैसे कितने ही प्रतापी राजा बल्कि दिलीप के पुत्र भगीरथ ने बत्तीस (32) बरसों तक घोर तपस्या कर के गंगा को धरती पर उतारा। क्या यह संभव है? क्या भगीरथ योग की पराकाष्ठा 'परकाया प्रवेश और समाधि' जैसे तत्वों को लेकर माँ की कुक्षि फाड़ बाहर निकले थे जिससे गंगा प्रसन्न होकर धरती पर आ गई? क्या भगीरथ के पूर्वज उनसे ज्यादा नहीं तो क्या कम भी यौगिक क्रियाओं के बारे में नही जानते होंगे? बिल्कुल जानते होंगे क्योंकि योगशास्त्र, शस्त्रज्ञान, नीति एवं राजनीति शास्त्र, तर्कशास्त्र, ज्योतिषशास्त्र और न जाने कितनी ही ज्ञान की शाखाओं को बचपन से ही इक्ष्वाकुओं ने गुरू के आश्रम में रहकर सीखने का प्रयत्न किया है और इसका प्रमाण भी रहा है। फिर क्या कारण रहा होगा कि गंगा भगीरथ के साथ ही धरती पर ही आई। उपयुक्त कारण यह नही है कि भगीरथ बहुत बड़े योगी थे बल्कि यह था कि वह बहुत दूरदर्शी अभियंता( Engineer) थे। भगीरथ ने अपने ये बत्तीस वर्ष हिमालय के किसी कंदरा में हठयोग, भावातीत या विपश्यना को निष्पादित करने में नही बिताया था बल्कि उन्होंने ये बत्तीस वर्ष  अपने राजसी सुखों का त्याग कर क्षेत्र अध्ययन( Field Study) करके गंगा के उद्गम स्थान का पता लगाने में लगाया, सरिता बाह्यआकार ( Channel Morphology) एवं उसके अंतर्गत आने वाली धारा-ज्यामिति ( Channel Geometry) और धारा-गतिकी( Fluid Dynamics) की बारिकियों का सूक्ष्म अध्ययन करने के साथ-साथ खुद के निर्देशन में ढाल एवं उन्नयन का खास ध्यान रखते हुए गंगोत्री से गंगासागर तक गंगा के लिए रास्ता खुदवाने में लगाया। गोमुख की सफेद चादरों में तो गंगा पहले से ही मौजूद थी और तो और वह आज के दून के इलाकों तक अपना रास्ता खोजते पहुँच चुकी थी लेकिन उत्तर में हिमाचल ( Himachal) एवं दक्षिण में शिवालिक ( Shivalik) के उत्थान ने उसका रास्ता रोक रखा था। वो इन दोनों श्रृखलाओं के बीच एक झील के रूप में कैद होकर रह गयी थी किंतु भगीरथ ने उसी गंगा को शिवालिक की पहाड़ियों को काटकर रास्ता दिया, झील रूपी गंगा ने सर्पीला आकार को धारण खुद को पहाड़ों के जकड़न से मुक्त किया जिससे आज के दूनों का निर्माण हुआ वह हिमालय एवं समुद्र के मध्य संदेशवाहक बनी। गंगा न महज हिमालय एवं समुद्र के मध्य योजन कड़ी बनी बल्कि उसने विश्व की सबसे महत्वपूर्ण सभ्यताओं में से एक 'गंगा सभ्यता' के विकास के लिए आदि बिंदु भी रही। यही कारण है कि इसने भारत के सदाबहार केंद्रक क्षेत्र( Perennially Nucleated Region) कहे जाने वाले उत्तर भारत को खुद के अनुसार पाला एवं इसे एक अलग पहचान प्रदान किया।
                                                                योग:  कर्मशुः कौशलम् यानि कार्य की कुशलता ही योग है। यह भगीरथ की कार्य कुशलता ही रही होगी जिसने गंगा को वास्तव में गंगा बनाया, जिसने निषादराज गुह जैसे दलित को भी इक्ष्वाकुओं के मैत्री का सम्मान दिया, जिसने आर्यावर्त्त को समस्त संसार में पृथक पहचान दिलाई और जिसने भारतवर्ष की रीढ़ कही जाने वाली गंगा को एक जननी के रूप में स्थापित किया। भगीरथ की यह मेहनत योग द्वारा मोक्ष प्राप्ति के लिए किये गए किसी यत्न से कम न था और यही कारण था कि भगीरथ की कृति को योग की संज्ञा मिली। हमें भारत के भगीरथ सम अद्वितीय अन्वषकों पर गर्व है जिन्होंने भारतीय मंजुलता एवं रमणीयता को एक अद्भुत आयाम प्रदान किया।

-उद्भव शांडिल्य
Previous Post Next Post